Atal Bihari Vajpayee Quotes in Hindi

Atal Bihari Vajpayee Quotes in Hindi|बाजपेयी के विचार 

Atal Bihari Vajpayee Quotes in Hindi-इस पोस्ट में भारत रतन से सम्मानित और भारत के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बेहतरीन अनमोल बिचारो को साझा किया गया है। -famous quotes by atal bihari vajpayee in hindi-अटल बिहारी वाजपेयी के 100+ अनमोल विचार -Atal bihari vajpayee quotes in hindi on education

अटल बिहारी वाजपेयी के 100+ अनमोल विचार

छोटे मन से कोई बड़ा नहीं हो सकता और टूटे हुए मन से कोई बड़ा नहीं हो सकता।-अटल बिहारी वाजपेयी

मेरे पास न तो दादा की दौलत है ,और न ही पिता की सम्पति ,मेरे पास सिर्फ माँ की आशीर्वाद है जो इन सब से बड़ा है।-अटल बिहारी वाजपेयी

सचिन तेंदुलकर कोट्स।

लक्ष्य के लिए की गयी कड़ी मेहनत कभी भी आप पर थकान नहीं लाती वो आपके लिए संतोष ही लाती है।-अटल बिहारी वाजपेयी

जीत और हार जीवन का अहम् हिस्सा है जिसे समानता से देखना चाहिए।-अटल बिहारी वाजपेयी

मैं यहाँ वादे लेकर नहीं इरादे लेकर आया हु।-अटल बिहारी वाजपेयी

जीवन एक फूल के समान है इसे पूरी ताक़त से खिलाओ।-अटल बिहारी वाजपेयी

कोई हथियार नहीं बल्कि आपसी भाईचारा ही सभी समस्याओ का समाधान कर सकता है।-अटल बिहारी वाजपेयी

मनुष्य जीवन अनमोल निधि है पुण्य का प्रसाद है ,केवल अपने लिए न जिए औरो के लिए भी जिए ,जीवन जीना एक कला है एक विज्ञानं है दोनों का समन्यवय आवश्यक है।-अटल बिहारी वाजपेयी

समाजिक न्याय के बिना स्वतंत्रा अपूर्ण है।-अटल बिहारी वाजपेयी

जैव-विविधता सम्मेलन से दुनिया के गरीबों को कोई ठोस लाभ नहीं हुआ है।-अटल बिहारी वाजपेयी

Atal bihari vajpayee quotes in hindi on education

हम अहिंसा में आस्था रखते हैं और चाहते हैं की विश्व के संघर्षो का समाधान शांति और समझोते के मार्ग से हो।-अटल बिहारी वाजपेयी

नर को नारायण के रूप देने वाले भारत ने दरिद्र और लक्ष्मीवान दोनों में एक ही परम तत्व का दर्शन किया है।-अटल बिहारी वाजपेयी

निरक्षरता और निर्धनता का बड़ा गहरा संबंध है।-अटल बिहारी वाजपेयी

ऐसी खुशियां जो हमेशा हमारा साथ दे कभी नहीं थी कभी नहीं है कभी नहीं रहेगी।-अटल बिहारी वाजपेयी

हिंसा किसी चीज में योगदान नहीं देती है।-अटल बिहारी वाजपेयी

समता के साथ ममता अधिकार के साथ उगत्मीयता वैभव के साथ सादगी -नव निर्माण के प्राचीन अस्तंभ है।-अटल बिहारी वाजपेयी

मेरे कवि का हृदय मुझे राजनीतिक समस्याओं का सामना करने की शक्ति देता है, विशेषकर उन समस्याओं का जिनका मेरे विवेक पर प्रभाव पड़ता है।
पौरूष पराक्रम बीरता हमारे रक्त के रंग में मिली है यह हमारी परम्परा का अंग है यह संस्कारो द्वारा हमारे जीवन में ढाली जाती है।-अटल बिहारी वाजपेयी

हमें उम्मीद है कि दुनिया प्रबुद्ध स्वार्थ की भावना से काम करेगी।-अटल बिहारी वाजपेयी

मेरे लिए शक्ति कभी आकर्षण नहीं रही।-अटल बिहारी वाजपेयी

atal bihari vajpayee quotes on politics in hindi

स्वतंत्रता संग्राम के दौरान मुझ पर अक्सर अंग्रेजों से साठगांठ करने का आरोप लगता रहा है। मैं पूछना चाहता हूँ, कैसे?-अटल बिहारी वाजपेयी

पृथ्वी पर मनुष्य ही एक ऐसा प्राणी है जो भीड़ में अकेला और अकेले में भीड़ से घिरे होने का अनुभव करता है।-अटल बिहारी वाजपेयी

मेरा मानना ​​है कि लोकतंत्र राष्ट्रों के बीच शांति और सहयोग का सबसे अच्छा गारंटर है।-अटल बिहारी वाजपेयी

किसी संत कवी ने कहा मनुष्य के ऊपर कोई नहीं होता मुझे लगता है की मनुष्य के ऊपर उसका मन होता है।-अटल बिहारी वाजपेयी

जब भी मैं इससे दूर होने में सक्षम होता हूं तो मैं अपने संग्रह को शामिल करने की कोशिश करता हूं-अटल बिहारी वाजपेयी

पाकिस्तान के लोगों और शासकों को मेरा संदेश है, ‘पड़ोसी के रूप में, हम आपके साथ शांति और दोस्ती और सहयोग चाहते हैं ताकि हम एक साथ दक्षिण एशिया का चेहरा बदल सकें।’-अटल बिहारी वाजपेयी

भारत को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य बनने का वैध अधिकार है।-अटल बिहारी वाजपेयी

भाजपा किसी एक व्यक्ति पर निर्भर पार्टी नहीं है और न ही वह किसी परिवार के ताने-बाने से बंधी है।-अटल बिहारी वाजपेयी

लोकतंत्र की यह शक्ति हमारे देश के लिए गर्व की बात है, जिसे हमें हमेशा संजोकर रखना चाहिए, संरक्षित करना चाहिए और इसे और मजबूत करना चाहिए।-अटल बिहारी वाजपेयी

Atal bihari vajpayee quotes on india

हमने पद छोड़ दिया है, लेकिन देश की सेवा करने की हमारी जिम्मेदारी नहीं है। हम चुनाव हार गए हैं, लेकिन हमारा संकल्प नहीं।-अटल बिहारी वाजपेयी

यदि चुनाव केवल धोखाधड़ी है, तो आतंकवादियों को पाकिस्तान की इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस एजेंसी की कमान में चुनाव उम्मीदवारों को मारने और मतदाताओं को डराने के लिए प्रशिक्षित और भारत में घुसपैठ क्यों की जा रही है?-अटल बिहारी वाजपेयी

अगर आडवाणी जी नहीं चाहते तो मैं कभी प्रधानमंत्री नहीं होता।-अटल बिहारी वाजपेयी

भारतीय जनता पार्टी के लिए, गांधीवादी समाजवाद वह है जिसे हम हासिल करना चाहते हैं और समाज को शोषण से मुक्त और अवसरों से भरा बनाना चाहते हैं।-अटल बिहारी वाजपेयी

राजनीतिक आधार पर किसी को भी अछूत नहीं माना जा सकता।-अटल बिहारी वाजपेयी

हम पाकिस्तान से बमों से लड़ते थे। अब हम उनके साथ खेल के मैदान पर लड़ रहे हैं।-अटल बिहारी वाजपेयी

स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनावों ने एक बार फिर दिखा दिया है कि जम्मू-कश्मीर भारत का हिस्सा है और लोग इसके साथ रहना चाहते हैं।-अटल बिहारी वाजपेयी

जैव-विविधता सम्मेलन से दुनिया के गरीबों को कोई ठोस लाभ नहीं हुआ है।-अटल बिहारी वाजपेयी

वास्तविकता यह है कि संयुक्त राष्ट्र जैसी अंतर्राष्ट्रीय संस्थाएँ उतनी ही प्रभावी हो सकती हैं, जितनी उसके सदस्य इसे होने देते हैं।-अटल बिहारी वाजपेयी

मैं बीफ खाने के बजाय मरना पसंद करता हूं।-अटल बिहारी वाजपेयी

मैं चाहूंगा कि राज्य का कोई भी नागरिक अकेला और असहाय महसूस न करे। पूरा देश उनके साथ है।-अटल बिहारी वाजपेयी

हमें उम्मीद है कि दुनिया प्रबुद्ध स्वार्थ की भावना से काम करेगी।-अटल बिहारी वाजपेयी

अटल बिहारी वाजपेयी के प्रेरणादायक अनमोल विचार

दान स्वीकार करते समय किसी की नजर पैसे के रंग पर नहीं पड़ती।-अटल बिहारी वाजपेयी

विज्ञान और प्रौद्योगिकी पर खर्च बढ़ाने की जरूरत है।

भारतीय लोकतंत्र की सबसे बड़ी ताकत यह है कि हमने हमेशा देश को राजनीति से ऊपर रखा है।

सतत विकास के लिए जनसंख्या को स्थिर करने की आवश्यकता है।

भ्रष्टाचार को लेकर कोई समझौता नहीं हो सकता।

अगर भारत धर्मनिरपेक्ष नहीं है, तो भारत भारत बिल्कुल भी नहीं है।

मैं एक ऐसे भारत का सपना देखता हूं जो समृद्ध, मजबूत और देखभाल करने वाला हो। एक भारत, जो महान राष्ट्रों के समूह में सम्मान का स्थान प्राप्त करता है।

बंदूकें नहीं, केवल भाईचारा ही समस्याओं का समाधान कर सकता है।

किसी भी राज्य को आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक गठबंधन के साथ साझेदारी का दावा करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए, जबकि आतंकवाद को सहायता, उकसाना और प्रायोजित करना जारी रखना चाहिए।

संयुक्त राष्ट्र की अनूठी वैधता एक सार्वभौमिक धारणा से बहती है कि यह एक देश या देशों के एक छोटे समूह के हितों की तुलना में एक बड़े उद्देश्य का पीछा करता है।

भारत तब भी धर्मनिरपेक्ष था जब मुसलमान यहां नहीं आए थे और ईसाइयों ने इस धरती पर पैर नहीं रखा था। ऐसा नहीं है कि उनके आने के बाद भारत सेक्युलर हो गया। वे अपनी उपासना पद्धति के साथ आए थे, और उन्हें भी, सम्मान और सम्मान का स्थान दिया गया था। उन्हें अपनी इच्छा और झुकाव के अनुसार भगवान की पूजा करने की स्वतंत्रता थी।

आतंकवाद पर भारत का एक सुसंगत और सुविख्यात दृष्टिकोण है। हम आतंकवाद के सभी कृत्यों का विरोध करते हैं, चाहे वे कहीं भी हों। हमने बार-बार कहा है कि कोई भी कारण हिंसा और विनाश को उचित नहीं ठहरा सकता है, खासकर नागरिकों के उद्देश्य से।

famous quotes by atal bihari vajpayee in hindi

भारत में भारी जन भावना यह थी कि पाकिस्तान के साथ कोई सार्थक वार्ता तब तक नहीं हो सकती जब तक कि वह अपनी विदेश नीति के एक उपकरण के रूप में आतंकवाद के उपयोग को छोड़ नहीं देता।

गरीबी बहुआयामी है। यह धन की आय से आगे शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल, राजनीतिक भागीदारी और अपनी संस्कृति और सामाजिक संगठन की उन्नति तक फैली हुई है।

आज वैश्विक अन्योन्याश्रयता का अर्थ है कि विकासशील देशों में आर्थिक आपदाएँ विकसित देशों पर प्रतिक्रिया उत्पन्न कर सकती हैं

हमारा मानना ​​है कि संयुक्त राज्य अमेरिका और शेष अंतर्राष्ट्रीय समुदाय भारत के खिलाफ सीमा पार आतंकवाद को स्थायी और दृश्यमान अंत करने के लिए पाकिस्तान पर प्रभाव डालकर एक उपयोगी भूमिका निभा सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.