maa shayari in hindi-

Maa shayari in hindi | Mother’s Day Sms | बेस्ट माँ शायरी-2021

Best maa shayari

इस पोस्ट के ऊपर माँ से जुडी शायरी लिखी हुई है अगर आपको शायरी पढ़ना पसंद है तो हमारे
वेबसाइट को सब्सक्राइब जरूर करें और अगर आपको हमारे वेबसाइट के ऊपर दिए गए
शायरी पसंद आये जरूर अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।

किसी को घर मिला हिस्से में किसी को दुकां आयी
मैं सबसे छोटे था घर में मेरे हिस्से में मेरी माँ आयी

kisi ko ghar mila kisi ke hisse me duka aayi
main sabse chhote tha mere hisse me maa aayi

मेरी खुवाईश है की मैं फिर से फरिस्ता हो जाऊं
माँ से इस तरह लिपट जाउ की बच्चा बन जाउ

meri khuaish hai ki main farista ho jaou
maa se is tarah lipat jaun ki bachcha ho jau

ज़मी बेचकर उसने मेरे लिए आसमा खरीद लिया
कुछ यादे लायी थी उसने अपने माँ बाप की
मेरे चंद खुशियों के लिए माँ ने अपने गहने बेच लिया

zami bechkar usne mere liye aasma kharid liya
kuchh yaade layi thi usne apne maa baap ki
mere chand khusiyo ke liye maa ne apne gahne bech liya

की माँ की बराबरी क्या कोई कर पायेगा
मंदिर में पूजते हो न खुदा को माँ का पैर
छू लो यही जन्नत मिल जायेगा

maa ki barabri kya koi kar payega
mandir me pujhte ho na khuda ko
maa kaa pair chhu lo yahi jannat mil jayega

Mom shayari | Mother shayari in hindi,

किसी ने मुझसे मुकाबला भी नहीं किया
और कहने लगे तुम हार जओगे भला ये भी कोई बात है
मैं कहता हु की दुनिया जीत सकता हु जब तक
मेरे सर पर मेरे माँ का हाथ है

kisi ne puchha mukabla bhi nhi kiya
aur maa kahne lagi tum haar jaoge bhala ye bhi koi baat hai
main kahta hu ki duniya jeet sakta hu jab tak
mere sar par mere maa ka hath hai

साडी दुनिया बोलती है बड़ा हो गया है कुछ कमाया कर
बस माँ बोलती है बहुत कमजोर हो गया है कुछ खाया कर

sadi duniya bolti hai ki bda ho gya hai kuchh kamaya kar
bas maa bolti hai bra kamjor ho gya hai kuchh khaya kar

मैंने अपनी भूख के लिए उसे भटकते देखा है
मेरे सपनो के लिए उसे सपनो के घरो में काम करते देखा है
हां वो आज है नहीं मगर उसकी दुआए मेरे साथ है
मैं मौत को बगल से निकलते देखा है

maine apni bhukh ke liye use bhatakte dekha hai
mere sapno ke liye usse sapno ke gharo me kaam karte dekha hai
haa wo aaj nhi hai magar uski duaaye meri sath hai
main maut ko bagal se nikalte dekha hai

मांग लो ये मन्नत की फिर यही जहाँ मिले
फिर वही गोद फिर वही माँ मिले

maang lo ye mannat ki fir wahi zahan mile
fir wahi god fir wahi maa mile

Maa ke liye shayari

ऊपर जिसका अंत नहीं उसे आसमान कहते है
इस जहाँ में जिसका अंत नहीं उसे माँ कहते हैं

uper ziska ant nhi use aasman kahte hain
is zaha me ziska ant nhi usse maa kahte hain

यार इस दुनिया में एक ऐसा सक्स है
जो बता सकती है की आंख सोने से लाल हुआ है रोने से

yaar is duniya me aisa saks hai
jo bta sakti hai aankh sone se lal hua hai ya rone se

जल्दी बहुत है इसलिए नंगे पांव जा रहा हु
ये मोटरगाड़ी और बांग्ला ये सब तुम रख लो
माँ घर पर अकेली है इसलिए गांव जा रहा हु

jaldi bahut hai isliye nange paw ja rha hu
ye moter ye bangla ye sab tum rakh lo
maa ghar per akeli hai isliye gao ja rha hu

अगर वक्त मिले पल का तो हाल पूछ लेना
अगर ज़िंदगी परेशान करे तो सबाल पूछ लेना
और जिन्होने सिखाया पेरो पे चलना कभी उन।
माँ बाप का भी ख्याल पूछ लेना।

wakt mile pal ka tou haal puchh lo
agar zindgi paresan kare tou sawal puchh lo
aur zihone sikhaya hai pairo pe chalna
un maa baap ka khayal puchh lo

Shayari for mother in hindi

किस्मत में जो लिखा है वो मंजूर नहीं मुझे
मैं हाथ की लकीर पर नहीं अपनी माँ बाप के रास्तो पे चलूँगा

kismat me likha hai wo manjoor nhi mujhe
main hath ki lakir per nhi maa baap ke raste per chalunga

मुझे फर्क नहीं परता की ये दुनिया मुझे क्या कहती है
मैं एक अच्छा बेटा हु ये बात सिर्फ मेरी माँ कहती है

mujhe fark nhi parta ki ye duniya mujhe kya khati hai
main ek achchha beta hu ye baat sirf meri maa kahti hai

मैंने कभी गोरे तो कभी काले इंसान को देखा है।
बहुत अपने तो कई मेहमान को देखा है
दौलत होते हुए भी नाकाम और कमजोर को देखा है
माँ बाप के रूप में मैंने भगवान को देखा है

maine kabhi kale tou kabhi gore insan ko dekha hai
bahut apne tou kyi mehman ko dekha hai
daulat hote huye bhi naakam aur kamjor ko dekha hai
maa baap ke roop me maine bhagwan ko dekha hai

अपने दिल के कुछ अरमान लिखता हु
दुनिया के लिए ये पैगाम लिखता हु
और जब जिक्र हो सच्ची मोहब्बत का
तब उठाता हु कलम और माँ लिखता हु

apne dil ke kuchh arman likhta hu
duniya ke liye ye paigam likhta hu
aur jab jikra ho sachchi mohabbt ki
tab uthata hu kalam aur maa likhta hu

maa shayari, best mother shayari in hindi,2021

मकान ही बचा है की घर अभी ढ़हने लगे हैं
बच्चे दूर शहर में अकेले माँ बाप रहने लगे हैं

makan hi bacha hai ki ghar abhi dhahne lage hain
bache door sahar me akele maa baap rahne lge

मेरी खामोसी में भी हरेक लब्स को पहचानती है
वो माँ ही है जो हर मंदिर में मेरी सलामती की भीख मांगती है

meri khamosi me bhi harek labs ko pahchanti hai
wo maa hi hai jo har mandir me meri salamati ki bhikh mangti hai

की है एक कर्ज जो सब पर सवार रहता है
वो माँ का प्यार है जनाब जो सब पर उधार रहता है

ki hai ek karj jo sab par sawar rahta hai
wo maa ka pyar hai janab jo sab par udhar rahta hai

की कल रात को मैं जन्नत में खरा था
सुबह उठके देखा तो माँ के पैरो में पड़ा था

ki kal raat ko main jannat me khada tha
subah uthke dekha tou maa ke pairo me pra tha

इस दुनिया में सबसे बड़ा यौद्धा माँ होती है

is duniya me sabse bda youdha maa hoti hai

shayari for mother’s day | Maa Shayari

न पूजा करता हु न नवाज़ पढ़ता हु न किसी सजदे में सर झुकाया है
और न ज्ञान है मुझे कुरान का न गीता को माथे से लगाया है
बस पूजता हु उस देवी को जिसने मुझे धरती पे लाया है

na puja karta hu na nwaz padhta hu na kisi sajde me sar ko jhukaya hai
aur mujhe na gyan hai mujhe kuran ka na gita ko mathe se lagaya hai
bas pujta hu us dewi ko jisne mujhe dharti par laya hai

किसी ने पूछा माँ के बगैर कैसा लगता है जनाब
मैंने कहा जी के देखो उजाले से भी डर लगता हैं

kisi ne puchha ma ke bagair kaisa lagta hai jnab
maine kha ji ke dekho ujale se bhi dar lagta hai

एक नदी बरसात के पानी से खाड़ी हो गयी
सोचते ही सोचते मेरी रात कारी हो गयी
की थी जिसने परवरिस गैरो के बर्तन मांज कर
आज वही माँ कई बेटो पर भरी हो गयी

ek ndi barsat ke pani se khari ho gyi
sochte hi sochte meri raat kari ho gyi
ki thi jisne parwaris gairo ke bartan maanj kar
aaj wahi maa kyi beto par bhari ho gyi

मेरी कलम बस अधूरा लिखती है
क्योकि इससे पता है की मेरी अधूरी
सायरी को मेरी माँ ही पूरा करती है

meri kalam bas adhura likhti hai
kyoki ise pta hai ki meri aduri
sayari ko maa hi pura karti hai

Best maa shayari in hindi download

जब आँखे खुली थी तो पास में माँ थी
जब आँखे बंद हो तब भी पास में माँ हो

jab aankh khuli tou pass me maa thi
jab aankhe band ho tab bhi maa pass me ho

ज़रा सी महगी जो माँ की दबायी हो गयी
तीनो बेटो में जमकर लड़ाई हो गयी
तू रखेगा इससे कल मेरे साथ थी
रात गुजरी तो माँ भी परायी हो गईं

jra si mahgi jo maa ki dabayi ho gyi
tino beto me jamkar larayi ho gyi
tu rakhega ise kal mere sath thi
raat gujri tou maa prayi ho gyi

चलती फिरती आँखों में अजा देखि है
यार मैंने जन्नत तो नहीं देखि लेकिन
हाँ मैंने माँ देखि है

chalti firti aankho me aja dekhi hai
yaar maine jannat tou nhi dekhi
lekin haa maine maa dekhi hai

सारे जहाँ को एक शब्द बया करना आ गया
उस छोटे से बच्चे को माँ कहना आ गया

sare jaha ko ek sabd me bya karna aa gya
us chhote se bachche ko ma kahna aa gya

Mother daughter shayari in hindi | Maa Shayari

दिल आँखे बंद करके भी वो चेहरा देख सकता है
वो तमाशाई नहीं है लेकिन तमासा देख सकता है
हम खिड़किया दरवाजे बंद करले तो भी क्या होगा
जो सूरज है उससे ज़माना देख सकता है

dil aankhe band karke bhi wo chehre dekh sakti hai
wo tamasayi nhi hai lekin tamasa dekh sakti hai
ham khidkiya darwaje band karle wo bhi kya hoga
jo suraj hai usse jamana dekh sakta hai

उदास रहने को अच्छा नहीं बताता है
कोई भी जहर को मीठा नहीं बताता है
कल अपने आप को देखा था माँ की आँखों में
ये आईना हमे बूढ़ा नहीं बताता है

udas rahne ko achchha nhi batata hai
koi bhi jahar ko mitha nhi batata hai
kal apne aap ko dekha tha maa ki aankho me
ye aayina mujhe budha nhi batata

ए अँधेरे देख ले तेरा मुँह कला हो गया
माँ ने आँखे खोल दी घर में उजाला हो गया

a andhere dekh le tera muh kala ho gya
maa ne aankhe khol di ghar me ujala ho gya

इस तरह मेरे गुनाहो को धो देती है
माँ बहुत गुस्से में होती है तो रो देती है

is tarah mere gunah ko dho deti hai
maa bahut gusse me hoti hai tou ro deti hai

ये ऐसा कर्ज है जो अदा हो ही नहीं सकता
मैं जब तक घर न लौटू मेरे माँ सजदे में रहती है

ye aisa karj hai jo ada ho hi nhi sakta
main jab tak ghar na lautu mere maa sajde me rahti haim

Mother’s day 2019 shayari | Maa Shayari In hindi

मैंने किसी दिन रोते हुए पोछे थे आँशु
मुद्दते माँ ने नहीं धोया दुपट्टा अपना

maine kisi din rote huye pochhe the aanshu
muddate maa ne nhi dhoya dupatta apna

उम्र भर खली हमने युही खाली मकां रहने दिया।
तुम गए तो दूसरे को कहा रहने दिया
चाहते की सब किताबे फार दी
बस एक कागज पर लिखा हुआ माँ रहने दिया

umra bhar khali hamne yuhi maka rahne diya
tum gye tou dusre ko kaha rahne diya
chahat ki sab kitabe far di
bas ek kagaj par likha hua maa rahne diya

माँ जिनके पास है वो क़द्र नहीं करते
जिनके पास माँ नहीं है उनसे पूछो माँ होती है क्या

maa jiske pas hai wo kadra nhi karte
zinke pas maa nhi hai unse puchho maa hoti hai kya

कुछ बच्चो अपनी प्यार के चक्कर में माँ का प्यार तक
भूल जाते हैं

kuchh bachche apne pyar ke chakkar
me maa ka pyar tak bhul jate hain

मुख़्तसर होते हुए भी जिंदगी बढ़ जाएगी
माँ का आंख चुम लीजिये आँख का रौशनी बढ़ जाएगी।

mukhtsar hote huye bhi jindgi badh jayegi
maa kaa aankh chum lijiye aankh ka raushni badh jayegi

Maa shayari | Mother’s day ki shayari

किसी भी मुश्किल को अब किसी को हल नहीं मिलता
सायद अब कोई घर से माँ का पैर छूकर नहीं निकलता

kisi bhi muskil ko ab kisi ko hal nhi milta
sayad ab koi ghar se maa ka pair chhukar nhi nikalta

हालत बुरे थे लेकिन अमीर बनाकर रखती थी।
हम गरीब थे ये बस हमारी माँ जानती थी

halat bure the lekin amir bnakar rakhti thi
ham garib the ye bas hmari maa janti thi

उसके होठो पे कभी बदुआ नहीं होती
बस एक माँ है जो कभी ख़फ़ा नहीं होती

uske hotho pe kabhi badua nhi hoti
bas ek maa hai jo kabhi kfa nhi hoti

सख्त राहो में भी आसान सफर लगता है
ये मेरी माँ के दुआओ का असर लगता है

sakht raho me bhi aasan safar lagta hai
ye meri maa ke duaao ka asar lagta hai

जब भी कस्ती मेरी सैलाब पे आ जाती है
माँ दुआ करती हुयी खुआब में आ जाती है।

jab bhi kasti meri sailab pe aa jati hai
maa dua karti huyi khuaab me aa jati hai

Mother father shayari | Best maa shayari download 2021

रूह की रिस्तो का ये गहराईयां तो देखिये
चोट लगती है हमे और चिल्लाती है माँ।

rooh ke risto ka ye gahrayiya tou dekhiy
chot lagti hai hme aur chilati hai maa

हम खुसियो में माँ को भले भूल जाएँ
जब मुसीबत आ जाये तो याद आती है माँ।

ham khusiyo me maa ko bhale bhul jaye
jab musibat aa jaye tou yaad aati hai maa

हजारो गम हो फिर भी खुशी से फूल जाता हु
जब हस्ती है मेरी माँ तो हर गम भूल जाता हु।

hjaro gam ho fir bhi khushi se phool jata hu
jab hasti hai meri maa tou har gam bhul jata hu

सोच समझकर बर्वाद करना मुझे
बहुत प्यार से पाला है माँ ने मुझे।

soch samjh kar barwad karna mujhe
bahut pyar se pala hai maa ne mujhe

सब कहते हैं आज माँ का दिन है
वो कौन सा दिन है जो माँ के बिन है।

sab kahte aaj maa ka din hai
wo kon sa din hai jo maa ke bin hai

Mother par shayari | Maa shayari hindi download

सन्नाटा सा छा गया बटवारे के किस्से में
जब माँ ने पूछा मैं हु किसके हिस्से में।

sannata sa chha gya batware ke kisse me
jab maa ne puchha main hu kiske hisse me

घर की इस बार मुकम्बल तलासी लूंगा
पता नहीं गम छुपाकर हमारी माँ बाप कहा रहते थे।

ghar ki is bar mukambal talasi lunga
pta nhi gam chhupakar hmari maa baap kha rakhte the

एक अच्छी माँ हर किसी के पास होती है
लेकिन एक अच्छा औलाद हर किसी के पास नहीं होता।

ek achchhi ma har kisi ke pas hoti hai
lekin ek achchha aulad har kisi ke pas nhi hota

जब जब कागज पर लिखा मैंने माँ का नाम
कमल अदब से बोल उठी हो गए चारो धाम।

jab jab kagaj par likha maine maa ka naam
kamal adab se bol uthi ho gye charo dham

50+ माँ पर शायरी – Maa Shayari in Hindi

माँ को देख मुस्कुरा लिया करो
क्या पता किस्मत में हज लिखी ही ना हो।

maa ko dekh muskura liya kro
kya pta kismat me haj likhi na ho

मांगने पर जहा हर पूरी मन्नत होती है
माँ के पैरो में तो ही वो जन्नत होती है

mangne par jahan har puri mannat hoti hai
maa ke pair me hi tou jannat hoti hai

मेरी माँ आज भी अनपढ़ है
रोटी एक मांगता हु वो लेकर दो देती है

meri maa aaj bhi anpadh hai
roti ek mangta hu wo lekar do deti hai

एक माँ सबकी जगह ले सकती है
लेकिन दुनिया में कोई माँ का जगह नहीं ले सकता

ek maa sabki jagah le sakti hai
lekin duniya me koi maa ka jagah nhi le sakta

माँ शायरी इन हिंदी 

हर रिश्ते में मिलावट देखि कच्चे रंगो में सजावट देखि
लेकिन सालो साल देखा है उस माँ को उनके चेहरे पैर
न थकावट देखि न ममता में कोई मिलावट देखि

har riste me milawat dekhi kachche rango me sajawat dekhi
lekin salo saal dekha hai us maa ke unke chehre
pair na thakawat dekhi na mamta me koi milawat dekhi

मिला न जिसे माँ का प्यार उम्र भर
उसको हर चेहरे में माँ दिखाई देती है

mila na jise maa ka pyar umra bhar
usko har chehre me maa dikhyi deti hai

रब को हम करम नहीं होते
माँ नहीं होती तो हम नहीं होते।

rab ko ham karam nhi hote
maa nhi hoti tou ham nhi hote

माँ से अच्छी भगवान की सूरत ही नहीं
माँ है मौजूद तो मंदिर की जरुरत ही नहीं

maa se achchhi bhagwan ki surat hi nhi
maa hai maujood tou mandir ki jarurat hi nhi

भगवान ने सोचा की वो हर घर में नहीं रह सकता
तो उसने माँ बनाई। और अपने प्रतिनिधि के रूप
में हर घर में भेज दी.

bhagwan ne socha ki wo har ghar me nhi rah sakta
tou usne maa bnayi aur apne partinidhi ke roop me
har ghar me bhej diya

माँ की ममता पर शायरी | Maa ki mamta par shayari

जो मांगू वो दिया कर ए ज़िंदगी
तू माँ जैसी बन जा।

jo mangu wo diya kar a zindgi
tu maa jaisi ban ja

तुम क्या सिखाओगे मुझे प्यार करने का सलीका
मैंने माँ के एक हाथ से थप्पड़ और दूसरे हाथ से रोटी खायी है।

tum kya sikhaoge mujhe pyar karne ka salika
maine maa ke ek hath se thapper dusre hath se roti khayi hai

अगर आपको ये maa shayari से जुड़े पोस्ट पसंद आया तो निचे कमेंट कर के हमें जरूर बताएं
और maa shayari के अलावा और भी केटेगरी के शायरी हमारे इस वेबसाइट पे आपको पढ़ने को
मिलेंगे | अगर आप love shayari , sad shayari , Motivational quotes पढ़ना चाहते हैं
तो निचे लिंक पे क्लिक कर के उस पोस्ट पे पहुँच सकते हैं |

See Also :

Best Attitude Status

Best Love Status For Facebook And Whatsapp

attitude status for fb

attitude status in hindi

love attitude status

Cute love status in hind

Sad status and shayari in hindi

100+ Best Attitude shayari for Facebook whats app

500+ Motivational Status Hindi and English

Best Holi shayri hindi

best Dosti Shayari

1 thought on “Maa shayari in hindi | Mother’s Day Sms | बेस्ट माँ शायरी-2021”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close Bitnami banner
Bitnami